China Product burn India

व्यापारियों ने चीनी सामान की जलाई होली, करोड़ों का माल जलकर राख दूसरी और SBI का BANK OF CHINA के साथ समझौता

नई दिल्ली: चीन के खिलाफ व्यापारियों के संगठन कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के आवाहन पर दिल्ली सहित देश भर के विभिन्न राज्यों में व्यापारी संगठनो ने 1500 से अधिक स्थानों पर चीनी सामानों की होली जलाई गई. बता दें कि व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन चीन द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चौथी बार मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने पर वीटो का उपयोग करने को ध्यान में रखकर किया गया.

प्रर्दशनकारी व्यापारी अपने हाथों में पत्तियां लिए हुए थे जिन पर लिखा था ” भारत को सोने की चिड़िया बनाना है – अब चीन को बाजार से हटाना है “, ” पाक समर्थक चीन को सबक-चीनी सामान का बहिष्कार “, ” चीन से बने सामान को खरीदना या बेचना – अपने जवानों का उत्साह कम करना “, “चीनी सामान का बहिष्कार -तोड़ेगा चीन की आर्थिक कमर ” जैसे पट्टियों द्वारा अपने रोष और आक्रोश का प्रदर्शन कर रहे थे .

वहीं दूसरी और देश के सबसे बड़े बैंक SBI (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) ने Bank of China (बैंक ऑफ चाइना)के साथ करार किया है. बैंक की ओर जारी बयान में कहा गया है कि इस समझौते से एसबीआई तथा बीओसी दोनों को संबंधित बाजारों में सीधी पहुंच का फायदा होगा. एसबीआई की एक शाखा शंघाई में है जबकि बैंक ऑफ चाइना मुंबई में अपनी शाखा खोल रही है.

एसबीआई की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस फैसले से व्यापार अवसरों को बढ़ावा देने के लिये बैंक आफ चाइना के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किये. भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने एक नोटिफिकेशन में कहा कि एसबीआई ने बैंक आफ चाइना के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये.

इसका मकसद दोनों बैंकों के बीच व्यापार में तालमेल बढ़ाना है. पूंजी आकार के मामले में बैंक आफ चाइना (बीओसी) दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा बैंक जबकि चीन के प्रमुख बैंकों में से एक है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *