TheResistanceNews

Resistance to known the truth

त्रिशंकु लोकसभा में विपक्ष की पहली बाजी होगी स्पीकर का चुनाव: Prashant Tandon

1 min read
Trishanku sarkar Loksabha 2019

Trishanku sarkar Loksabha 2019

दूसरी संभावना:  यूपीए यानि कांग्रेस, एनसीपी,आरजेडी और उसके घटक, डीएमके, नेशनल कॉफ्रेंस अगर सबसे बड़े चुनाव पूर्व गठबंधन के रूप में उभरते हैं तब राष्ट्रपति इस गठबंधन को सरकार बनाने का न्योता देने के लिए बाध्य होंगे. संख्या अगर इतनी आती है तो यूपीए के बाहर के दल जैसे एसपी-बीएसपी गठबंधन, तृणमूल कांग्रेस, तेलुगूदेसम पार्टी जैसे दल जिन्होने मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ा इसी खेमे से जुड़ेंगे और राष्ट्रपति भवन जाने से पहले नेता का भी चुनाव करेंगे. नेता कांग्रेस का होगा या किसी क्षेत्रीय पार्टी से ये कांग्रेस की संख्या पर निर्भर करेगा.
Read More  नतीजों के दिन मुस्लिम परिवार में हुआ बेटा, मां ने रखा नाम नरेंद्र मोदी
तीसरी संभावना:  पहली संभवना के तहत अगर राष्ट्रपति मोदी को सरकार बनाने और बहुमत सिद्ध करने का मौका देते हैं तब दोनों गठबंधन के बाहर के क्षेत्रीय दलों की भूमिका अहम होगी. अमूमन सभी बड़े क्षेत्रीय दल मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में स्वीकार नहीं करेंगे और विश्वास मत में खिलाफ वोट करके सरकार को गिरायेंगे. इसके बाद आगे की कार्यवाही दूसरी संभावना के मुताबिक चलेगी. इसे भी तय माना जाये कि मोदी-शाह पैसे के बल पर इन क्षेत्रीय दलों में तोड़फोड़ की कोशिश करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *